पूर्व छात्र विद्या भारती की पूंजी व शक्ति है- रवि कुमार

पूर्व छात्र विद्या भारती की पूंजी व शक्ति है। पूरे देश में लगभग 20 लाख से अधिक पूर्व छात्र अपने अपने क्षेत्र में सफलता का परचम लहरा रहे हैं। इन सब को इकट्ठा कर, उनकी क्षमताओं का समाज के लिए उपयोग करना ही हमारा लक्ष्य है। जो संस्कारवान शिक्षा उन्हें हमारे विद्यालयों से मिली है उन्हें उसका उपयोग समाज हित में करना चाहिए। पूर्व छात्रों को एक मंच पर लाने का प्रयास किया जा रहा है। विद्या भारती हरियाणा के विद्यालयों में पढ़े अनेक पूर्व छात्र आज देश विदेश में अपने देश का नाम ऊंचा कर रहे हैं। ये विचार रवि कुमार, संगठन मंत्री, विद्या भारती हरियाणा ने हरियाणा प्रांत के पूर्व छात्रों की कार्यशाला में रखे। इसका आयोजन शिक्षा भारती वरिष्ठ माध्यमिक विद्यालय, गोहाना रोड में किया गया। इस कार्यशाला में हरियाणा के विभिन्न विद्यालयों के पूर्व छात्र प्रतिनिधि, संयोजक उपस्थित रहे।
हर्ष कुमार, क्षेत्रिय प्रशिक्षण प्रमुख ने कहा विद्यालयों की पहचान उसके पूर्व छात्रों से होती है। अगर पूर्व छात्र अपना सामाजिक दायित्व का ईमानदारी से निर्वाह इमानदारी से कर रहा है तो वह विद्यालय के लिए गर्व की बात है। विद्या भारती के विद्यालयों के पूर्व छात्रों से हर व्यक्ति इमानदारी व कर्त्वयनिष्ठा की उम्मीद करता है। उन्हें भी समाज की उम्मीद पर खरा उतरना चाहिए।

डॉ पंकज शर्मा, प्रांत प्रमुख , पूर्व छात्र परिषद ने गत वर्ष पूर्व छात्र परिषद के कार्यो की जानकारी दी तथा आगामी वर्ष की योजना के बारे विस्तार से जानकारी दी। उन्होंने बताया इस साल पूर्व छात्र परिषद सभी विद्यालयों में केरीयर गाइडेंस कार्यक्रम आयोजन करेगी ताकि सभी अध्ययनरत विद्यार्थियों को इसका फायदा मिल सके।
श्री मद् भगवद्गीता विधालय कुरुक्षेत्र के संजय चौधरी, शिक्षा भारती वरिष्ठ माध्यमिक विद्यालय गोहाना रोड रोहतक के कशिश पाहवा, शिक्षा भारती वरिष्ठ माध्यमिक विद्यालय, रामनगर के कमल बजाज व गीता विद्या मंदिर वरिष्ठ माध्यमिक विद्यालय गोहाना के अमरनाथ ने अपने विद्यालयों की पूर्व छात्र परिषद द्वारा किए गए कार्यों व आगामी योजनाओं के बारे में बताया। कार्यशाला में अध्धयनरत , स्थापित छात्र व संयोजक समूहों ने भविष्य की योजनाओं के बारे विचार विमर्श किया।

vidyabhartiharyana

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *