संस्कार केंद्र प्रवासी कार्यकर्त्ता कार्यशाला का हुआ समापन

दिनांक 13 व 14 जुलाई 2019 को कुरुक्षेत्र के संस्कृति भवन में विद्या भारती हरियाणा की सेवा शिक्षा के प्रवासी कार्यकर्ताओं की दो दिवसीय कार्यशाला आयोजित की गई।

ये सभी कार्यकर्त्ता संस्कार केंद्रों की सम्भाल करने वाले थे। इसका उद्घाटन उत्तर क्षेत्र के क्षेत्रीय सेवा शिक्षा व प्रशिक्षण प्रभारी श्री हर्ष कुमार जी ने किया। उन्होंने सेवा क्षेत्र की क्या होता है इस का क्या महत्व है व यहाँ कार्य करना क्यों आवश्यक है इन सब बातों पर चर्चा की व मार्गदर्शन किया।
दूसरे सत्र में उन्होंने संस्कार केंद्र की आवश्यकता व वहां की गतिविधियों के बारे में जानकारी दी। शाम के समय 4.30 से 6.30 बजे तक सभी कार्यकर्त्ता 3 वर्गों में 3 संस्कार केंद्रों पर गए तथा वहां होने वाले क्रियाकलापों को देखा,पूछताछ की व नई जानकारी दी। खेल कालांश में शिक्षा को पुष्ट करने वाले नए नए खेल खेले व लिख कर सबको दिए। रात्रि के समय श्री हर्ष जी के साथ संस्कार केंद्रों के अनुभव साँझा किए।

अगले दिन प्रातः प्रातः स्मरण व योग का अभ्यास किया गया। अगले सत्र में वंदना अभ्यास करवाया गया।
वंदना सत्र में प्रवासी कार्यकर्त्ता के करणीय कार्यों को श्री हर्ष जी द्वारा विस्तार से बताया गया। कार्यकर्त्ता के विकास के गुणों पर भी प्रकाश डाला गया।
दूसरे सत्र में विद्या भारती के माननीय प्रान्त संगठन मंत्री श्री रवि कुमार जी ने प्रवास की समग्र योजना व उसके अधिकतम क्रियान्वयन पर चर्चा की।
समापन सत्र में हिन्दू शिक्षा समिति के प्रांतीय अध्यक्ष श्री ऋषिराज वशिष्ठ जी ने ने सेवा शिक्षा व संस्कार केंद्र के महत्व को बताया तथा प्रवासी कार्यकर्ताओं से उत्साह पूर्वक इसमें कार्य करने का आह्वान किया। कल्याण मन्त्र के साथ इस 2 दिवसीय कार्यशाला का समापन हुआ।

vidyabhartiharyana

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *